इन 8 तरीकों से मजबूत करें अपने मोबाइल का सिग्नल

low-signal-mobile-phone-020615कई बार ऐसा होता है कि कोई जरूरी कॉल करनी होती है मगर सिग्नल नहीं आ रहा होता। कई बार सिग्नल कमजोर होने की वजह से कॉल बार-बार कट जाती है। इन समस्याओं के अलावा कई बार घर या ऑफिस पर मोबाइल सिग्नल से जुड़ी परेशानी झेलनी पड़ती है।

आगे जानें 8 ऐसे तरीके, जिन्हें आजमाकर आप कमजोर नेटवर्क की समस्या हल कर सकते हैं….

 

1. ऑफ करके फिर ऑन करें

कई बार फोन को ऑफ करके ऑन करने से भी समस्या सुलझ जाती है। ऐसा इसलिए, क्योंकि फोन ऑन होने पर नए सिरे से नेटवर्क तलाश करके उसी टावर से कनेक्ट होता है, जिसका सिग्नल स्ट्रॉन्ग होता है। आप अपने फोन एयरप्लेन मोड में डालकर एक बार फिर उससे निकालेंगे, तो भी ऐसा ही होगा।

2. अपने फोन को चार्ज करें

अगर आपके फोन की बैटरी लो है तो भी सिग्नल की समस्या हो सकती है। बैटरी लो होने पर बहुत से फोन पावर सेविंग मोड में चले जाते हैं। इसलिए यह आपके सेल सिग्नल को ट्रांसमिट करने में कम पावर इस्तेमाल करता है। इसलिए बैटरी कम है तो चार्ज कीजिए और अगर चार्ज नहीं कर पा रहे तो पावर सेविंग फीचर्स को बंद कर दीजिए। मगर ध्यान रहे कि इसके बाद आपकी बैटरी और तेजी से खर्च होगी।

3. जगह बदलें

आप अपना फोन जिस तरीके से पकड़ते हैं, उसका भी असर पड़ता है। अगर आप फोन का ऐंटेना कवर कर रहे हैं तो सिग्नल कमजोर हो जाएगा। इसलिए अपना ग्रिप बदलिए। आपको यह पता होना चाहिए कि आपके फोन का ऐंटेना है कहां। कई बार जगह का भी फर्क पड़ता है। अन्य इलेक्ट्रॉनिक डिवाइसेज भी सिग्नल को बाधित करते हैं। अगर आप कहीं इमारत के अंदर हैं तो बाहर आएं। छत और दीवारों की वजह से सिग्नल कमजोर हो जाता है। कई बार तो खिड़की खोलने से भी आपका काम बन सकता है। इसके अलावा जगह बदलकर भी देखी जा सकती है।

4. आबादी वाली जगह पर जाएं

अगर आप ट्रैवल करते हुए किसी ऐसी जगह पर हैं, जहां सिग्नल नहीं है तो वहां से ऐसी जगह पर जाइए, जहां आबादी हो। ऐसा इसलिए, क्योंकि ज्यादातर सेल्युलर ट्रांसमिटर एक ही दिशा में सिग्नल छोड़ते हैं। इन्हें उस तरफ पॉइंट किया जाता है, जहां आबादी होती है। इसी वजह से कई बार टावर के सामने खड़े होने पर भी सिग्नल कमजोर होता है।

5. अच्छा फोन लीजिए

अगर आपको हर जगह कमजोर सिग्नल मिलता है तो संभव है कि समस्या फोन की है। हो सकता है कि यह खराब हो गया हो या फिर इसका ऐंटेना कमजोर हो गया हो। जिन जगहों पर बाकी लोगों को सिग्नल की समस्या न हो, वहां आपका फोन नेटवर्क ढूंढता फिर रहा हो तो इसका मतलब है कि फोन बदलने का वक्त आ गया है।

6. बेहतर कैरियर इस्तेमाल कीजिए

हमेशा समस्या फोन की नहीं होती। कई बार कैरियर भी समस्या करते हैं। जहां आप रहते हैं या काम करते हैं, वहीं पर नेटवर्क अच्छा न आए तो आपको समझना चाहिए कि नेटवर्क में भी समस्या हो सकती है। अगर उसी नेटवर्क वाले अन्य किसी व्यक्ति को भी यही समस्या हो रही है तो आपको किसी और नेटवर्क प्रोवाइडर को अपनाने की जरूरत है। ऐसी कंपनी का सिमकार्ड लें, जिसका नेटवर्क मजबूत हो।

7. वाई-फाई से करें कॉलिंग

यह तरीका आप हमेशा तो नहीं अपना सकते, मगर फिर भी काम का साबित हो सकता है। आईफोन और ऐंड्रॉयड स्मार्टफोन्स में भी यह ऑप्शन आजमाया जा सकता है। आप सेल्युलर सिग्नल के बजाय वाई-फाई सिग्नल इस्तेमाल कर सकते हैं, मगर आपको पहले चेक करना पड़ेगा कि आपका सेल्युलर और वाई-फाई प्रोवाइडर ऐसी सुविधा देते हैं या नहीं। जैसे कि एक ऐप के जरिए जियो यूजर्स जियोफाई के जरिए वॉइस कॉलिंग कर सकते हैं।

8. मोबाइल सिग्नल बूस्टर आजमाएं

अगर घर पर अक्सर कमजोर सिग्नल रहता है तो आप सिग्नल रिपीटर ट्राई कर सकते हैं। बहुत सारे मोबाइल सिग्नल बूस्टर ऑनलाइन उपलब्ध हैं।

8. मोबाइल सिग्नल बूस्टर आजमाएं

अगर घर पर अक्सर कमजोर सिग्नल रहता है तो आप सिग्नल रिपीटर ट्राई कर सकते हैं। बहुत सारे मोबाइल सिग्नल बूस्टर ऑनलाइन उपलब्ध हैं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *