Hardware-हार्डवेयर कंप्यूटर

कम्प्युटर हार्डवेयर  भाग ( 2 )

कम्प्युटर हार्डवेयर  भाग 2

दोस्तों जैसा कि आप सब जानते हैं और पहली पोस्ट में मैंने आप सब को बताया था कि कंप्यूटर हार्डवेयर को अच्छी तरह से समझने के लिए हमें कंप्यूटर के हार्डवेयर पार्ट्स के बारे में सभी तरह की जानकारी होनी चाहिए ,इसी क्रम में आज हम मदरबोर्ड के बारे में जानेंगे ,दोस्तों मदरबोर्ड कंप्यूटर का मुख्य भाग होता है. तथा कंप्यूटर के सारे पार्ट्स इसी से जुड़े रहते हैं इसको मेन बोर्ड भी कहा जाता है|

आप सब ने मदरबोर्ड देखा भी होगा जो की एक कॉलोनी के जैसा दिखता है जिसमें कोई बड़ी बिल्डिंग कोई छोटी बिल्डिंग कहीं खाली मैदान इत्यादि इसी तरह से दिखाई देता है, लेकिन मदरबोर्ड को हमें अच्छी तरह से समझने के लिए इन सभी कंपोनेंट को जानना जरूरी है, तो आइए सबसे पहले मैं मदरबोर्ड के बारे में आप सबको बताता हूं दोस्तों सबसे पहले हम मदरबोर्ड के सभी पार्ट्स के नाम को जान लेते हैं |

PS2 कीबोर्ड और माउस करैक्टर दोस्तों मदरबोर्ड के ऊपर सबसे फर्स्ट कनेक्टर यही होता है जिसके अंदर ps2 कीबोर्ड और माउस लगाए जाते हैं, यह दोनों कनेक्ट सेम होते हैं ,लेकिन हमें यह ध्यान रखना पड़ता हैं कि कीबोर्ड को हम कीबोर्ड वाली दिन में लगाएंगे और मैं माउस को माउस वाली पिन मे लगाएं, लेकिन कई बार जिन्हें पता नहीं रहता है वह कंफ्यूज हो जाते हैं और दिन को इधर-उधर लगा देते हैं वैसे इन दोनों का कलर अलग अलग होता है जिसे हम आसानी से पहचान सकते हैं परंतु कई बार मदरबोर्ड के सभी करैक्टर सेम कलर के होते हैं जिससे कंफ्यूजन पैदा हो जाता है|
ps2 कीबोर्ड और माउस को पहचानने का सबसे आसान तरीका है की पीसीबी के ऊपर इस ps2 कनेक्टर को हम ध्यान से देखें जो कनेक्टर pcb के सबसे पास में होता है वह कीबोर्ड का होता है और सबसे जो दूर यानी ऊपर रहता है वह माउस का होता है |

COM PORT दोस्तों PS2 के ठीक नीचे com पोर्ट होता है जिसके अंदर भी बहुत सारी चीजें लगाई जाती हैं जैसे पुराने जो mause आते थे वह इसमें लगाए जाते थे, और भी कई सारी डाटा केबल हैं जो इस में लगाई जाती हैं ,और कई सारी ऐसी डिवाइस हैं जैसे वजन करने वाले कांटे जहां गाड़ियों का वजन होता है वो डिवाइस भी कॉम पोर्ट से ही जोड़ी जाती है ,इसके नीचे BGA पोर्ट होता है जिसके अंदर हम किसी भी मॉनिटर जैसे Crt LCD LED प्रोजेक्टर इत्यादि वीडियो आउट के लिए जोड़ते हैं |

ठीक इसके बगल में LPT पोर्ट होता है जहां हम डॉट मैट्रिक्स प्रिंटर जोड़ते हैं, वैसे आज के समय में डॉट मैट्रिक्स प्रिंटर यूएसबी भी आते हैं लेकिन पुराने समय में डॉट मैट्रिक्स प्रिंटर LPT पोर्ट से कनेक्टिविटी के लिए जाते थे ,ठीक इसके नीचे USB पोर्ट होता है आप सबने देखा भी होगा USB पोर्ट से हम लगभग सभी चीजों को कंप्यूटर से कनेक्ट करने के लिए यूज़ में लेते हैं, जैसे :- कीबोर्ड, माउस printer,मोबाइल, वायरलेस कार्ड, ब्लूटूथ इत्यादि|
दोस्तों के usb कनेक्टर के ठीक नीचे LAN PORT होता है जिससे हम एक कंप्यूटर को दूसरे कंप्यूटर से जोड़ने (नेटवर्किंग) के काम में लेते हैं ,LAN पोर्ट के ठीक नीचे ऑडियो पोर्ट होता है जिससे हम ऑडियो इन आउट और माइक को उपयोग में लेते हैं |

यह भी जरूर पढे ……..

 

कम्प्युटर हार्डवेयर  भाग 1

मोस्फेट को कैसे चेक करे 

मल्टीमीटर को कैसे काम मे ले 

लैपटाप स्क्रीन लाइट समस्या को कैसे ठीक करे 

youtube चैनल पर जाने के लिए यहा क्लिक करे 

दोस्तो यदि आपके कम्प्युटर लैपटाप या मोबाइल मे कोई समस्या हैं तो आप कमेंट मे पूछ सकते हैं

About the author

Admin

नमस्कार दोस्तों, आप सभी का chiplevels.com में स्वागत है। यहाँ पर आपको Computer / Laptop Hardware के chiplevel स्तर तक के नोट्स मिलेंगे। जो लोग Computer / Laptop Hardware का course नहीं कर पाते है, वे हमारे ब्लॉग से Basic जानकारी प्राप्त कर सकते है।
अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें |

Add Comment

Click here to post a comment