फ्यूज(Fuse)फ्यूज के कार्य तथा पहचान

share on:

fuse

fuse | फ्यूज:-आज हम इस पोस्ट में जानेंगे को फ्यूज क्या होता हैं और यह कितने तरह के आते हैं और इनका मुख्या कार्य क्या होता हैं और हम इनको किस तरह से मल्टीमीटर से चेक कर सकते हैं |

फ्यूज किसी सर्किट में फ्यूज एक बचाव के लिए लगाया गया एक कॉम्पोनेन्ट होता हैं  जो  शार्ट सर्किट के शोर्ट होने पर सर्किट को  सप्लाई से अलग कर देता है तथा सर्किट को होने वाले किसी भी नुकसान से बचाता है।

सुरक्षात्मक एसेसरीज के रूप में  फ्यूज़ सबसे प्रमुख होता हैं है। अतः हम कह सकते है कि फ्यूज किसी भी सर्किट का वह भाग हैं जो सर्किट में असमान्य करंट आने पर सर्किट को सप्लाई से पूरी तरह से अलग कर देता है जिसे हम फ्यूज फ्यूज कहते  है। फ्यूज कई प्रकार के होते है जैसा की आप सभी के अपने घरो में या कंप्यूटर smps या भी किसी भी इलेक्ट्रानिक डिवाइस के अंदर लेकिन आज कल के नए डिवाइसो के अंदर इसे फ्यूज आ रहे हैं की उन्हें हम यदि जानकारी नहीं हो तो पहचान नहीं सकते हैं |

Fuse|फ्यूज का संकेत :-दोस्तों हम किसी भी डिवाइस के अंदर लगे हुए फ्यूज को आसानी से पहचान सकते हैं इसके लिए हमें फ्यूज के संकेत के बारे पता होना चाहिए |दोस्तों फ्यूज को किसी भी सर्किट के अंदर अंग्रेजी के शब्द F या K के द्वारा बताया जाता हैं जिसे हम आसानी से देख सकते हैं |

Fuse को मल्टीमीटर से चेक करे का तरीका :जैसा की हमने आप सभी को बताया की फ्यूज किसी भी सर्किट में जरुरत से ज्यादा सप्लाई आने पर सर्किट को सप्लाई से अलग कर देता हैं किन्तु सप्लाई को किसी भी स्थति में कम या जयादा नहीं भेजता हैं इस तरह हम कह सकते है की फ्यूज जितने भी एम्पिअर का होता हैं वह उतने करंट को भेजता हैं और उससे ज्यादा आने पर फ्यूज जल जाता हैं और सप्लाई को अलग कर देता हैं |अलग -अलग सर्किटो में अलग – अलग तरह के फ्यूज लगे हुए होते हैं जिन्हें हम आसानी से पहचान नहीं पते हैं किन्तु फ्यूज के संकेत F/K से हम आसानी से पहचान सकते हैं जयादा तर सर्किट में फ्यूज का संकेत F लिखा होता हैं लेकिन कई स्थिति में K भी लिखा हुआ हो सकता हैं | मल्टी मीटर से चेक करने पर शोर्ट बताता हैं तो सही हैं अन्यथा ख़राब हैं |मल्टीमीटर के बारे में पूरी तरह से जानने के लिए यहाँ क्लिक करे :-{मल्टीमीटर}

 

share on:

Leave a Response